संजय दत्त की सबसे बड़ी हिट फिल्म बनी KGF : चैप्टर 2, ली मोटी फीस

फ़िल्म अभिनेता संजय दत्त की पहली फ़िल्म रॉकी वर्ष 1981 में रिलीज हुई थी। इसके बाद लगभग 40 वर्ष तक संजय दत्त लगातार फिल्मों में अभिनय करते रहे। हालांकि अपनी पहली फ़िल्म रॉकी के रिलीज के बाद ड्रग्स के कारण स्वास्थ्य समस्याओं के कारण लगभग 1 वर्ष तक फिल्मों से दूर रहे, मगर जल्द ही उन्होंने वापसी की। उसके बाद 1993 तक वो अनवरत हिंदी फिल्मों के स्टार बने रहे। 1993 में वो हथियार रखने के जुर्म में डेढ़ वर्ष तक जेल में रहे। फिर जब जेल से निकले तो बॉलीवुड के दर्शकों ने उन्हें फिर से स्टार बना दिया। हथियार रखने वाले केस में उन्हें फिर से जेल जाना पड़ा और लगभग 3 वर्ष तक जेल की सजा काटने के बाद वो जेल से रिहा हुए।

————————————————————

जेल से रिहा होने के बाद संजय दत्त अभी फिल्मों में अपनी खोई हुई बादशाहत बना ही रहे थे कि कैंसर जैसी गम्भीर बीमारी से उन्हें जूझना पड़ा। लेकिन संजय दत्त ने हार नहीं मानी और डट कर इस बीमारी का मानसिक रूप से मुकाबला किया और मुम्बई में ही इलाज करवा कर कैंसर को मात दे कर फिर से फिल्मों में काम करने लगे। उनके 40 साल के अभिनय के अनुभव को देखते हुए KGF:चैप्टर 2 में उन्हें अधीरा का रोल मिला। यह ये कन्नड़ भाषा की फ़िल्म है। संजय दत्त ने इसके पहले कभी किसी क्षेत्रीय भाषा की फ़िल्म में काम नहीं किया था। लेकिन KGF:चैप्टर 1 की सफलता देख उन्होंने इस फ़िल्म जे सीक्वल में काम करने के लिए हामी भर दी।

————————————————————

KGF: चैप्टर 2 में संजय दत्त ने एक्टिंग करने के लिए 35 करोड़ रुपये की फीस ली थी। जो अब तक उनके 40 साल के फिल्मी कैरियर की अब तक की सबसे बड़ी फीस रही है। यही नहीं संजय दत्त के 40 साल के कैरियर में सबसे बड़ी हिट फ़िल्म KGF: चैप्टर 2 ही रही है जिसने 8 दिन में 719 करोड़ रुपये का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन कर लिया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.